सर्दियों के समय में जरूर खाये ये चीजें

loading...

दोस्तों आज फिर से आपका wwwnewsdunia.in में स्वागत है आज हम आपको बताएंगे की सर्दियों के समय में खाने योग्य क्या क्या चीजे जरुरी होती है जिनका सर्दियों में सेवन करना अनिवार्य है !

सर्दियों के समय में खाने योग्य कुछ पदार्थ

दालचीनी का प्रयोग

क्या अपन ने कभी भी दालचीनी का प्रयोग किया है हो सकता है की किया भी हो या नहीं भी किया हो हम आपको बताते है की दालचीनी का प्रयोग वैसे तो खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है पर इसका प्रयोग ठंड के समय में शरीर को गर्म रखने के लिए भी किया जाता है हम इसका प्रयोग कैसे भी कर सकते है चाहे तो हम इसको सुबह पानी के साथ, या फिर चाय के साथ, खाने के साथ या फिर इसको हम दूध के साथ भी ले सकते है यह ठंड से बचने के लिए काफी अच्छी चीज है !

हरी मिर्च का प्रयोग

क्या अपने कभी भी ह्री मिर्च का सेवन किया है अगर नहीं किया है तो करियेगा जरूर क्युकी इसके सेवन से भी शरीर में गर्मी का अहसास होता है क्या आप जानते है कैसे अगर हम ह्री मिर्च का सेवन करते है तो वह बहुत ही तीखी होती है जिस तीखे पण की वजह से हमारे शरीर का रक्त संचारण एक साथ बढ़ जाता है और हमे गर्मी का अहसास होता है !

बथुआ के प्रयोग

बथुवे को वैसे तो प्रकति का वरदान कहा ही जाता है और आप सब यह भी जानते ही होंगे की यह होता भी ठंड के समय में ही है इसका प्रयोग भी हम बहुत तरीके से कर सकते है और अगर हम इसका प्रयोग सही तरीके से खाने में करते है तो यह खाने में लगता भी बहुत ही स्वादिष्ट है इसका प्रयोग हम पराठे बनाने में भी कर लेते है और दूसरा प्रयोग हम रायता बनाकर भी कर सकते है और तीसरा प्रयोग हम इसका साग बनाकर भी कर सकते है अगर हम इसका प्रयोग ठंड के समय में प्रतिदिन करते है तो हमारी पाचन किर्या भी सही रहती है और शरीर में भी गर्मी बनी रहती है !

मेथी का प्रयोग

मेथी का प्रयोग भी सर्दियों के समय में करते है क्युकी यह भी शरीर में गर्मी पैदा करने का ही एक स्त्रोत है इसका प्रयोग से हमे शरीर में गर्मी का आभाव नहीं होता है और मेथी के रोजाना प्रयोग से शरीर में होने वाला बाय का दर्द भी खत्म हो जाता है इसका प्रयोग हम साग में भी कर सकते है और इसका प्रयोग हम दूसरे तरीके जैसे की पराठे बनाकर भी कर सकते है इसके प्रतिदिन प्रयोग करने से शरीर में रक्त की कमी भी नहीं होती है !

शकरगंदी का प्रयोग

मैंने को तो शकरगंदी एक सब्जी भी और और दूसरे तरीके से देखे तो यह एक फल भी है और आप को बता दे की इसमें विटामिन ए,विटामिन बी,विटामिन सी और आयरन भी पाया जाता है और इसके फायदे तो अनेक है यह शरीर में गर्मी भी पैदा करता है और शरीर की चर्बी का भी नियंत्रण करता है और शरीर में ऊर्जा भी पैदा करता है और यह एक कैलोरी का भी अच्छा स्त्रोत है !

ड्राई-फ्रूट्स का प्रयोग

क्या आप जानते है की ड्राई फ्रूट्स है क्या अगर जानते है तो सही है ही पर अगर नहीं जानते है तो हम बताते है की ड्राई फ्रूट्स खजूर,मुनक्का और ऐसे ही बहुत सारे खाद्य पदार्थ होते है जिनके सेवन करना स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा समझा जाता है इनके सेवन से न तो शरीर में ठंड का आवागमन होता है और न ही कमजोरी महसूस होती है अर्थात कहना यह है की हमे हमेशा ही ड्राई फ्रूट्स का तो प्रयोग करते ही रहना चाहिए इसके प्रयोग से हमारे शरीर में कोई भी किसी भी प्रकार की कमी भी नहीं होती है !

ओमेगा 3 फैटी एसिड का प्रयोग

क्या अपने कभी भी ओमेगा 3 फैटी एसिड का नाम सुना हो सकता है की अपने सुना भी हो पर ऐसा भी हो सकता है की न भी सुना जो यह एक ऐसा पदार्थ होता है जिसका सेवन सर्दियों के दिनों में जरूर करना चाहिए और हम आपको बतादे की यह सबसे ज्यादा केवल मछली में ही पाया जाता है हमारा कहने यह है की हमे सर्दियों में इसका सेवन जरूर करना चाहिए क्युकी इसका सेवन करने से शरीर में कभी भी गर्मी की कमी महसूस नहीं होती है इसका सेवन हमे सदियों में जरूर करना चाहिए !

रसीले फल का प्रयोग न करे

कभी भी सर्दियों के समय में रसीले फ्लो का प्रयोग नहीं करना चाहिए अगर हम इनका प्रयोग करेंगे तो शरीर में ठंड बढ़ने के चांस ज्यादा हो जाते है अगर हमे फल खाने भी है तो जो फल रसीले नहीं होते है केवल उन्ही फलो का सेवन करे अगर हम रसीले फल जैसे संतरा,मौसमी और ऐसे ही फलो का सेवन करेंगे तो सर्दी जुखाम होने के चांस काफी बढ़ जायेंगे इसी वजह से कभी भी रसीले फलो का सेवन नहीं करना चाहिए !

शहद का प्रयोग

क्या आप जानते हो की शहद को आयुर्वेद में अमृत के नाम से भी पुकारा जाता है क्युकी इसमें बहुत सारे गुण होते है और इसमें कुछ ऐसे भी खासियत होती है की इसका सेवन किया भी हर एक मौसम में जाता है लेकिन सदियों और गर्मियों दोनों मौसम में तो इसका प्रयोग बहुत ही लाभकारी होता है सर्दियों और गर्मियों दोनों समय में ही शहद को अपने भोजन में जरूर सम्मलित करे इसके सम्मलित करने से अनेक प्रकार की बीमारियाँ नहीं होती है !

बाजरे का प्रयोग

क्या आप जानते है की बाजरे की रोटी सर्दियों में खा लेते है तो यह समझिये की आधी ठंडक तो खत्म हो गयी और बाजरे में सभी अनाजों के हीसाब से सबसे ज्यादा ताकत पायी जाती है बाजरे में अनेक प्रकार के गुण पाए जाते है बाजरे की रोटी हमे हमारे घर के बच्चो को तो जरूर ही खिलने चाहिए क्युकी बाजरे की रोटी खाने से न ही तो ठंड लगती है और यह स्वास्थ्यवर्धक भी होती है इसमें वो सभी गुण पाए जाते है की जिससे सभी का स्वास्थ्य बिलकुल ठीक रहता है बाजरा में वो सभी चीजें जो शरीर के लिए आवश्यक है जैसे मैग्नीशियम,कैल्शियम,मैग्नीज, ट्रिप्टोफेन, फाइबर, विटामिन- बी, एंटीऑक्सीडेंट आदि भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

बादाम का प्रयोग

सर्दियों में वैसे तो सभी ड्राई फ्रूट सही रहते है पर सबसे ज्यादा बादाम ही अच्छा मन जाता है इसका प्रयोग सर्दियों में सभी के लिए कर सकते है जैसे बच्चो के लिए, बड़े-बुढो को लिए और और सभी युवाओ के लिए भी बहुत अच्छा मन जाता है इसके सर्दियों में रोजाना सेवन करने से ठंड का अहसास नहीं होता है इसके सेवन से शरीर में गर्मी पैदा हुई रहती है !

अदरक का प्रयोग

अदरक का प्रयोग भी हम सर्दियों में ज्यादातर करते है पर क्या आप जानते है की अदरक का प्रयोग क्यों किया जाता है अदरक का प्रयोग हम सब्जी में दाल कर भी कर सकते और अदरक का प्रयोग हम सुप माँ डालकर भी कर सकते है और अदरक का प्रयोग हम उसको कच्चा चबाकर भी कर सकते है और अदरक का प्रयोग हम अदरक की चाय बनाकर भी कर सकते है अदरक के प्रयोग से भी कभी भी ज्यादा ठंड का अहसास नहीं होता है !

मूंगफली का प्रयोग

हमे सर्दियों के समय प्रतिदिन मूंगफली का प्रयोग भी अवश्य करना चाहिए क्युकी इसके प्रयोग से शरीर में गर्मी की कमी नहीं होती है और इसके खाने से शरीर में ताकत भी आती है और यह भी एक तरह का ड्राई फ्रूट ही होता है जिसका उपयोग किसी भी उम्र के लोग कर सकते है चाहे वो बच्चे ही क्यों न हो !

हल्दी का प्रयोग

सर्दियों में हल्दी का प्रयोग भी बहुत जरुरी होता है क्युकी हल्दी के प्रयोग से शरीर में गर्मी भी बनी रहती है और इसके शरीर में लगी चोट का दर्द भी खत्म हो जाता है और यह नहीं की न्य दर्द पुराने से पुराना दर्द भी इसके प्रयोग से खत्म हो जाता है पर हमेशा यद् रखे की इसका प्रयोग ज्यादातर केवल दूध के साथ ही करे !

सब्जियों के प्रयोग

सर्दियों में सब्जी के ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करे क्युकी सब्जी के ज्यादा सेवन करने से शरीर में एक एनर्जी रहती है और गर्मी के भी अहसास रहता है सब्जी के रोज सेवन करने से शरीर में प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देता है हमे सर्दियों में  मेथी, गाजर, चुकंदर, पालक, लहसुन बथुआ आदि का सेवन ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए इसके सेवन से शरीर में इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।

तिल के प्रयोग

सर्दियों में हमे तिल का भी प्रयोग करना चाहिए इनके प्रयोग से शरीर में गर्मी बनी रहती है और ताकत भी पैदा होती है और शरीर में खून की भी कमी नहीं होती है हम तिल के लड्डू बनाकर भी खा सकते है इससे शरीर में गर्मी भी होती है !

च्यवनप्राश खाये

हमे सर्दियों में च्यवनप्राश का सेवन भी जरूर करना चाहिए इसके सेवन से अनेक प्रकार की प्रतिरोधक क्षमताए बढ़ जाती है और इनके उपयोग से कभी भी कोई प्रॉब्लम नहीं होती है इसके प्रयोग से शरीर में खून की भी कमी नहीं होती है !

सर्दियों में स्वस्थ और निरोगी रहने के लिए कुछ तरीके

  • हरी सब्जियों का सेवन प्रतिदिन जरूर करना चाहिए इसके करने से भी सर्दी का अहसास कम होता है !
  • हरी सब्जियों में कफी हद तक फाइबर, फौलिक ऐसिड, विटामिन सी, पोटैशियम, मैग्नीशियम और अन्य पोषक पदार्थ  पाए जाते है जो स्वास्थ्य वर्धक होते है !
  • सर्दियों में गाजर की खीर और गाजर के हलवे का भी प्रयोग खाने में करना चाहिए इसके प्रयोग से भी स्वास्थ्य बहुत हद तक सही रहता है !
  • सर्दियों में सिट्रस फल का भी सेवन करना चाहिए क्युकी इनके सेवन करने से कभी भी शरीर में विटामिन स की कमी नहीं होती है !
  • केवल ऐसे खड़े पदार्थो का प्रयोग करना चाहिए जिनके करने से शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है !
  • इन सभी का सेवन प्रतिदिन करना चाहिए इससे सर्दी और जुखाम से लड़ने के लिए रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है !
  • सर्दियों में न तो कभी भी ज्यादा गर्म खाना चाहिए और न ही कभी भी कोई चीज ज्यादा ठंडी खानी चाहिए क्युकी ऐसा कारणसे से भी जुखाम और सर्दी शरीर को जकड़ लेती है !
  • अगर कोई दिल का रोगी है तो सर्दियों में उसे जैतून के टेल में ही खाना बनाकर देना चाहिए !

 

अगर आप को मेरे द्वारा दी गयी जानकारी में कोई भी गलती मिलती है तो कृपया करके कमेंट के द्वारा जानकारी जर्रोर दे और अगर आप को पोस्ट अच्छी लगे तो शेयर जरूर करे !

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *