लेदर क्या है इसकी पहचान कैसे करे

दोस्तों आज फिर से आपका www.newsdunia.in में स्वागत है आज हम आपको कुछ अलग ही जानकारी देने जा रहे है जिसके बारे में आज तक आप को कहि से भी पूरी जनकरी प्राप्त नहीं हुई होगी आज हम आपको यह बताएंगे की आप अपने लिए अच्छे लैदर की पहचना कैसे कर सकते है !

लैदर क्या है

आज का समय वो समय है जिसमे हमे किसी भी चीज का नकली रूप मिलना एक आम सी बात हो गयी है पर सबसे बड़ी समस्या यह है की हम कुछ चीजों की तो पहचान कर लेते है की व नकली है या असली पर कुछ चीजे ऐसे भी होती है जिसकी हम पहचान भी नहीं कर पाते की वो असली है या नकली जैसे की अगर आपको कोई कुछ पैसे देता है तो हो सकता है की आप उसको आसानी से पहचान जायेंगे पर हो सकता है कि अगर आपको कोई असली या नकली लैदर कि पहचान करने के लिए बोले तो आप उसकी पहचान आसानी से कर लेंगे !

आप ने यह भी सुना होंगे की कुछ काम ऐसे होते है की जो मुश्किल होते है पर नामुनकिन नहीं होते है उसी तरीके से यह काम है की हम लैदर की भी पहचान कर सकते है ऐसा नहीं है की हम लैदर की पहचान कर ही नहीं सकते और अगर आप लैदर की पहचान करना सिख जायेंगे तो आप फिर कभी भी लैदर की कोई भी वस्तु लेते समय कभी भी हिच किचाएंगे नहीं और आप लैदर की भी कोई भी अच्छी वस्तु आसानी से खरीद सकते है !

लैदर को कैसे पहचाने

  • अगर आप कभी भी किसी असली लेदर में छेद करते है तो वह छेद कुछ ही देर में खुद ही खत्म हो जायेगा पर नकली लेदर में ऐसा नहीं होता !
  • अगर आप असली लेदर और नकली लेदर दोनों को देखते है तो दोनों को सूँघिये उसमे से असली लेदर में आपको अजीब से गंध आएगी !
  • अगर आप असली लेदर को देखते है तो उसकी सिलाई को देखे क्युकी अगर आप असली लेदर की सिलाई को देखेंगे तो उसमे आपको भर की तरफ निकले हुए अजीब से रेशे दिखाई देंगे !
  • अगर आप असली लेदर को देखते है तो आप को उसमे कुछ बहुत ही बारीक़ से छेद भी दिखाई देंगे जो की कभी भी नकली लेदर में नहीं देखे देते !
  • अगर आप असली लेदर को हाथ में लेकर देखते है तरो वो आपको कभी भी बराबर नहीं देखे देगा कही से तो मोटा रहेगा और कही से पतला रहेगा !
  • असली लेदर में नकली लेदर की अपेक्षा कुछ कम चमक रहती है मतलब यह कम चमकता है !
  • अगर असली लेदर होगा तो वह आसानी से जल नहीं पायेगा अगर आप उसको जलाने की कोशिसकरेंगे तो उसमे अजीब सी गंध आनी शुरू हो जाएगी !

असली लैदर की पहचान कैसे करे

  • छेद करके पता करना
  • गंध सूंघ कर पता करना
  • सिलाई देख कर पता करना
  • छेद को गौर से देखना
  • देखने में बराबर महसूस नहीं होना
  • कम चमकदार होना
  • नहीं जलना
  • सिकुड़न और खिचाव दिखाई देना
  • कही न कही कमी होना
  • अच्छा महसूस करना
  • पानी सोखना

असली और नकली लैदर की पहचान

छेद करके पता करना

असली लैदर और नकली लैदर में यह भी पहचान रहती है कल अगर आप असली लैदर में किसी सुई से छेद करते हैतो वह कुछ समय बाद खुद से ही गायब हो जायेगा बल्कि अगर आप नकली लैदर में छेद करेंगे तो ऐसा कुछ भी नहीं होगा वह छेद बंद नहीं होगा !

गंध सूंघ कर पता करना

अगर आप कभी भी नकली लैदर को सूंघते है तो आप को कोई भी गंध नहीं सुंघाई देगी बल्कि अगर आप असली लैदर सूंघते है तो आपको उसमे से कुछ अजीब सी ही गंध सुंघाई देगी यह भी असली लैदर की पहचान होती है !

सिलाई देख कर पता करना

अगर आप कभी भी किसी भी असली लैदर की किसी भी वस्तु की सिलाई देखते है तो उसमे भर की साइड सिलाई के छेड़ो पर रेशम की धग्गे दिखाई देंगे जबकि ऐसा कुछ नकली लैदर में नहीं होता है !

छेद को गौर से देखना

अगर आप कभी भी असली लैदर को देखते है तो आपको उसमे बहुत बारीक़ छेद दिखाई देंगे जबकि ऐसा कुछ कभी बी ही नकली लैदर में नहीं होता है !

देखने में बराबर महसूस नहीं होना

आपको कभी भी असली लैदर देखने में बराबर महसूस नहीं होगा असली लैदर देखने में ऐसा लगता है की वह बराबर नहीं कही से ज्यादा ऊँचा और कही से ज्यादा निचा है यह भी इसकी अच्छी पहचान है !

कम चमकदार होना

असली लैदर में कभी भी इतनी चमक नहीं देखे देगी जितनी की असली लैदर में होती है असली लैदर की चमक नकली लैदर के हिसाब से बहुत कम होती है यह भी सही ही पहचान है इसके द्वारा हम ऐसे लैदर को आसानी से पहचान सकते है !

नहीं जलना

अगर आप कभी भी असली लैदर को जलाना चाहते है तो आसानी से नहीं जल पायेगा बल्कि अगर आप नकली लैदर को आप आसानी से जला सकते है वह आसानी से जल जाता है पर असली वाला नहीं जलता !

सिकुड़न और खिचाव दिखाई देना

अगर आप कभी भी किसी असली लैदर वाली चीज को खींच कर देखते है तो उसको छोड़ने के बाद भी कुछ समय तक उसमे खिचाव और सिकुड़न महसूस होती रहेगी !

कही न कही कमी होना

कभी भी असली लैदर में ज्यादा सफाई देखाईनहीं देती है बल्कि नकली लैदर में ज्यादातर सफाई देखाई देती है !

अच्छा महसूस करना

कभी भी अगर हम असली लैदर को हाथ में लेते है तो वह काफी मुलायम महसूस होता है बल्कि कभी भी नकली लैदर मुलायम महसूस नहीं होता है !

पानी सोखना

नकली लैदर कभी भी थोड़ा बहुत पानी भी नहीं सोख पाता है बल्कि असली लैदर थोड़ा बहुत पानी आराम से सोख लेता है !

 

 अगर आप को मेरे द्वारा दी गयी जानकारी में कोई भी गलती मिलती है तो कृपया करके कमेंट के द्वारा जानकारी जर्रोर दे और अगर आप को पोस्ट अच्छी लगे तो शेयर जरूर करे !

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *