सफलता की एकमात्र कुंजी – Time Management

दोस्तों, आज फिर से स्वागत है www.newsdunia.in पर और आज हम बात करेंगे समय प्रबंधन की और मुझे उम्मीद है कि ये जानकारी आपको जरूर पसंद आयेगी –

                 समय प्रबंधन (Time Management) का जितना महत्व विद्यार्थीयों के लिए वर्तमान समय में है, उतना पहले कभी नहीं रहा | विज्ञान एवं तकनीकी के विभिन्न आविष्कारों ने एक ओर जहाँ विद्यार्थियों के समक्ष ज्ञान का असीमित खजाना खोल दिया है, वहीं दूसरी ओर उसके सामने अनेक विकल्पों की दुविधाभरी भूल-भूलैया भी पैदा कर दी है | एक ओर सैंकड़ों टी. वी. चैनल्स, अनगिनत वैबसाइटस, मोबाइल फोन, सामाजिक मेलजोल के आधुनिक माध्यम जैसे फेसबुक, ट्विटर, WhatsApp, ईमेल आदि के जरिये सबसे जुड़े रहने और नवीनता को देखने / अपनाने की ललक तथा दूसरी ओर स्कूल / कॉलेज में पढ़ाया जाने वाला पाठ्यक्रम और उसके माध्यम से स्वयं को सर्वश्रेष्ठ साबित करने की गलाकाट प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देती विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाएँ एवं कोचिंग संस्थान | प्रतिदिन उपलब्ध 24 घंटों में इन सभी के मध्य अपने समय का समुचित नियोजन करना आज के विद्यार्थी के लिए बड़ी चुनौती बन गया है | आज के अति व्यस्त समय में अधिकांश विद्यार्थी अपने शारीरिक, मानसिक एवं आध्यात्मिक स्वास्थ्य के प्रति भी सजग नहीं रह पाते और इस लापरवाही के दुष्परिणाम ना सिर्फ वे स्वयं बल्कि हमारा पूरा समाज एवं देश भुगतता है |

       प्रस्तुत हैं कुछ व्यावहारिक सुझाव जो एक विद्यार्थी के लिये संतुलित समय प्रबंधन में सहायक सिद्ध हो सकते है-

           समय प्रबंधन की योजना बनाने को पर्याप्त समय दें.  किसी विद्वान ने ठीक ही कहा  है – योजना बनाने में विफल

                होना,  अपनी विफलता  की  योजना बनाना है |

⇒          विभिन्न स्तरों पर (जैसे वार्षिक, त्रैमासिक, मासिक, साप्ताहिक एवं दैनिक) लक्ष्य निर्धारित करें एवं उनकी प्राप्ति के

              लिए लिखित चरणबद्ध योजना  बनाएँ |

          प्रत्येक दिन के समय के समुचित उपयोग की योजना पहले  दिन ही बना लें ताकि इससे समय की बर्बादी पर

              कारगर रोक लग सके |

⇒          मनुष्य एक बुद्धिजीवी होने के नाते हमेशा  इतने कार्य सोच सकता है, जितने वह कभी पूर्ण नहीं कर सकता |

              इसलिए सबसे पहले अपनी प्राथमिकताएं तय करें | क्या पहले करना है, क्या बाद में और क्या कभी नहीं करना

             है, इसका निर्णय भली-भाँति सोच विचार कर करें |

          टेलीविज़न, इंटरनेट, सोशल वेबसाईट्स के उपयोग का समय सख्ती से तय करें | इनके माध्यम से बर्बाद होने

              वाले समय का हमें आभास ही नहीं होता | थोड़े – थोड़े समय में मोबाइल / कम्प्यूटर पर अपडेट्स प्राप्त करने

              / चेक करने से बचें | इसमें ना सिर्फ समय का व्यय होता है बल्कि आप अपने हाथ के कार्य पर समुचित रूप

              से एकाग्र भी नहीं हो पाते | यह आपकी कार्यक्षमता पर बड़ा प्रतिकूल प्रभाव डालता है |

           जिस प्रकार शरीर से नहाने का प्रभाव धीरे – धीरे समाप्त होता जाता है और हमें प्रतिदिन नहाना पड़ता है, उसी

              प्रकार दिमाग से सत्प्रेरणा (Motivation) का प्रभाव भी धीरे – धीरे समाप्त होता जाता है | अत: प्रतिदिन किसी

              प्रकार की धार्मिक / आध्यात्मिक सत्प्रेरणा के लिए समय अवश्य निकालें ताकि सदा उन्नति के मार्ग पर अग्रसर

              रह सकें |

          अपने शारीरिक स्वास्थ्य का भी समुचित ध्यान रखें | प्रतिदिन कम से कम आधा से एक घंटा किसी आउटडोर

               खेल / शारीरिक व्यायाम / योगासन एवं प्राणायाम / भ्रमण आदि के लिए अवश्य निर्धारित करें | याद रखें –

               कई युवा अपने शारीरिक स्वास्थ्य को गँवाकर असीमित धन प्राप्त कर लेते हैं, लेकिन बाद में उस तमाम धन

               को खर्च करके भी उत्तम शारीरिक स्वास्थ्य प्राप्त करना संभव नहीं हो पाता |

            यदि आप प्रारंभ में निर्धारित योजना / कार्यक्रम का पूर्णतया पालन नहीं कर पाते, तो भी निराश न हों और सतत

               प्रयास जारी रखें | योजना का शत प्रतिशत पालन आपका लक्ष्य हो, समय पालन के लक्ष्य को धीरे – धीरे बढ़ाने

              का प्रयास करते चलें |

            हममें से अधिकांश का यह स्वभाव बन गया है कि अच्छाइयों को हम नजरंदाज करते जाते हैं और बुराइयों पर

              अधिक ध्यान देकर निराश होते चले जाते हैं | हमारे चारों ओर प्रतिक्षण बहुत कुछ अच्छा भी घटित हो रहा है |

              बुराइयों को अनदेखा कर, तमाम पूर्वाग्रहों से रहित होकर अपना ध्यान अच्छाइयों एवं सकारात्मकता पर केन्द्रित

               करें | आप पाएँगे कि आपके चारों और अच्छाइयों एवं सकारात्मकता में उत्तरोत्तर वृद्धि होती चली जाएगी |

दोस्तों, अगर ये पोस्ट आपको अच्छी लगी है तो कृपया Like & Share  करें ताकि अन्य विद्यार्थी भी इसका लाभ उठा सकें.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *